मिलिए राधाकृष्णा सीरियल के राधा - मल्लिका सिंह से और जाने उनकी दिल की बात - दिल की बात

Sunday, 21 April 2019

मिलिए राधाकृष्णा सीरियल के राधा - मल्लिका सिंह से और जाने उनकी दिल की बात




मिलिए राधाकृष्णा सीरियल के राधा - मल्लिका सिंह से और जाने उनकी   दिल की  बात 

JANE RADHA KE DIL KI BAT

दिल की बात - www.dilkibat.com दिल से आपका स्वागत है |


राधा कृष्ण की लीड एक्ट्रेस मल्लिका सिंह इन दिनों दर्शकों के बीच
अपनी रील और रियल लाइफ को लेकर चर्चा में हैं। गुजरात स्थित
उमरगांव में शूट कर रहीं मल्लिका अपने होम टाउन जम्मू को बहुत
मिस कर रही हैं। हालिया मुलाकात में उन्होंने अपनी पर्सनल
प्रोफेशनल लाइफ, एजुकेशन सहित अपनी आइकन और
अन्य बातों पर की खास चर्चा...


खुश हूं कि मेहनत रंग लाई..

जब मैंने इस शो को साइन
किया था तो एक्सपेक्ट नहीं किया था कि
यह लोगों को इतना पसंद आएगा। मुझे
लगा भी नहीं था कि यह कुछ महीनों से
ज्यादा चल पाएगा, लेकिन हमारे काम
को लोगों ने इतना सराहा कि अब ये शो
लोगों के दिल में अपनी जगह बना चुका
है। मैं बहुत खुश हूं कि हमारी मेहनत
रंग लाई। कई तरह की वर्कशॉप हमसे
कराई जाती थी तब मैं सोचती थी कि
आखिर इतनी मेहनत से क्यों कराई
जा रही है। उस वक्त मैं एक्टिंग सीख
रही थी। इसलिए समझ नहीं आ रहा था  
कि इस मेहनत का रिजल्ट क्या होगा।
आज 6 महीने के वर्कशॉप के बाद जब
शो ने टीआरपी बटोरी तो लगा कि मेहनत
सफल हुई।




• कभी सोचा नहीं था एक्ट्रेस बनूंगी

मेरी एक आंटी एक्टिंग की फील्ड में हैं।
मैंने कभी सोचा नहीं था कि मैं एक्ट्रेस
वनँगी, लेकिन उन्होंने मुझे बहुत मोटिवेट
किया। उनका काम देखकर मैं बहुत
एक्साइटेड हो जाती थी। उन्होंने मेरे नाम
की सिफारिश राधा कृष्ण के ऑडिशन के
लिए की थी। आज भी मुझे याद है कि
ऑडिशन में स्पीच ज्यादा दे रही थी। मुझे
बिल्कुल एक्टिंग नहीं आती थी।
जम्मू में बिताए बचपन को बहुत
मिस करती हूं...
मेरा जन्म जम्मू में हुआ है लेकिन मैं 9वीं
कक्षा से ही मुंबई आती जाती रहती थी।
मैं मौसी के घर हर वेकेशन पर आती थी।
मुझे मुंबई बहुत अच्छा लगने लगा और
मैंने फैसला किया कि मुंबई में ही पढ़ाई
करूंगी। 10वीं में थी तब पहला ऑडिशन
दिया। मैं जम्मू में बिताए अपने बचपन
को बहुत याद करती हूं।



: पढ़ाई बहुत जरूरी है..

मेरी अभी तक ग्रेजुएशन कंप्लीट नहीं
हुई है और मैं मानती हूं कि एजुकेशन
बहुत जरूरी है। मैं अपनी
पढ़ाई को कभी बीच में नहीं
छोडूंगी। मुझे लगता है कि
हर इंसान को एक ऑप्शन
करियर में रखना चाहिए।
जब मैं एक्टिंग में आई, तभी
तय कर लिया था कि अपनी
पढ़ाई पर इसका प्रभाव नहीं
पड़ने दूंगी। फिलहाल मैं सिर्फ
एक्टिंग में ही कॅरिअर बनाना
चाहती हूं। यहां एक अच्छा
मुकाम पाया है।
सुमेध और मैं सिर्फ
अच्छे दोस्त हैं...
सुमेध और मैं सिर्फ अच्छे
दोस्त हैं। इससे आगे हमारे बीच
कुछ भी नहीं है। हम दोनों की
केमिस्ट्री को लोगों ने बहुत
सराहा है। हमारे बीच प्यार-व्यार
नहीं है।

Pyar Me Dhoka - प्यार में धोखा मिले तो ये करे


 तो दोस्तों कैसी लगी  राधा  के दिल की बात  
हमें जरूर बताये  नीचे कमेंट  करे या  dilkibat999@gmail.com  पर हमें मेल करे।
अपना बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद्।  

No comments:

Post a Comment

About Me

बेहतर से बेहतर कि तलाश करो,
मिल जाये नदी तो समंदर कि तलाश करो,
टूट जाता है शीशा पत्थर कि चोट से,
टूट जाये पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो।